ये लव नहीं लव जेहाद है ------------!

        
           ७१२ से भारत पर हमले जारी है केवल प्रकार बदला है पहले तलवार और कुरान से हमला करते थे आज इनकी क्षमता कुंद हो चुकी है इस मुर्ख जाती को सारी दुनिया असभ्यों की जमात मान चुकी है इनकी बर्बरता, कायरता में कोई कमी नहीं हुई है, पहले हमले में महाराजा दाहिर से बार-बार पराजित हो मुहम्मद्बिन कासिम की सेना आगे नहीं बढ़ रही थी लूट के धनका लालच भी काम नहीं कर रहा था, क्यों की जितने हमले होते कोई भी सैनिक बच कर वापस जा नहीं पाता फिर उसने औरतों का लालच दिया वास्तव में कुरान एक अपवित्र पुस्तक है जो इस तरह के ब्यभिचार को बढ़ावा देती है यहाँ तक कि ''औरतों की लूट'' नामक पुस्तक लिखी जा चुकी है जिसमे दिल दहला देने वाली जैसी बातें हैं अफगानिस्तान, तुर्की इत्यादि देशों में ९०% मुसलमान हिन्दू महिलाओं की संतान हैं, कायर, बेशर्म और बेहया इस्लामिक मतावलंबियों जिन्हें सम्पूर्ण दुनिया आतंकबादी मान चुकी है ये बेशर्मी की सीमा पार कर चुके हैं, इस्लाम भारत में अपना स्वरुप बदलकर सेकुलर का स्वरुप धारण कर चुका है जिसकी आड़ में कोई भी इस्लामिक कृत्य जायज है, अब धर्मांतरण और बलात इस्लामीकरण सम्भव न होने के कारन चार-चार बिबाह कर २५-२५ बच्चे पैदाकर मुस्लिम आवादी बढ़ाना यही से लव जेहाद की शुरुवात होती है .

        विश्व के सबसे ताकतवर इस्लामिक देश पाकिस्तान बार -बार भारत पर हमला करने पराजित होने से इस्लामिक देशों ने अपनी रण-नीति बदली है लेकिन हमला करना नहीं छोड़ा आज भी कायरता पूर्ण हमले जारी है उनका स्वरुप बदला है आतंकबादी हमलों के अतिरिक्त लव जेहाद और लैंड जेहाद गत सालो में केरल उच्चतम न्यायालय ने एक निर्णय दिया है ये लव नहीं ये लव-जेहाद है उस समय एक ही वर्ष में वहां पांच हज़ार लड़कियां जा चुकी थी आज के तीन साल पहले का आकडा है प्रति वर्ष एक लाख हिन्दू लड़कियां लव जेहाद का शिकार होती थी इस समय यह अकड़ा पार कर चुका है हिन्दू लड़की के फ़साने का कोड है 'कृष्ण लव' और ईसाई लड़की के लिए 'क्राईष्ट लव', IBN7 ने अपनी रिपोर्ट में इसका बिस्तार से विश्लेषण किया है इंडिया टुडे व दैनिक अख़बारों ने भी समय-समय पर लिख कर हिन्दू समाज को सचेत किया है, कर्णाटक के गृहमंत्री ने एक प्रश्न के उत्तर में बताया की एक वर्ष ने २० हज़ार लड़कियाँ गायब हैं ये कहाँ गयीं वास्तव में ये मखतब-मदरसों को योजना का ही एक हिसा है जो ISI के इसारे पर जोरों से चल रहा है, ये हिन्दू समाज के अग्रगणी, प्रतिष्ठित परिवारों को लक्ष्य बनाते है जिससे हिन्दू समाज अपमानित हो और मुल्लाओं ने जाती विशेष की लड़कियों का अलग-अलग रेट तय रखा है उसके हिसाब से शहरों में फ्लेट लिए जाते हैं लड़की फँसाने के पश्चात् वह फ्लेट गायब हो जाता है किसका है पता नहीं चलता, जिस स्तर की लड़की है उस स्तर की सुबिधा लड़कों को मस्जिद उपलब्ध कराता है आमिर खान का सीरियल ''सत्य,मेव जयते''' का उद्देश्य और धन का उपयोग इन्ही कामो में हुआ। 
        १९८० में पाकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेंशी ISI की योजना अनुसार इसकी आंधी शुरू हो गयी लव जेहाद के कुछ उदहारण बीजेपी के नेता मुख़्तार अब्बास नकवी ने एक प्रतिष्ठित परिवार की लड़की से हिन्दू बनकर बिबाह किया पुनः मुसलमान बन गया इस नाते किसी मुसलमान पर विस्वास करना ख़तरे से खाली नहीं यह कौम विस्वसनीय नहीं, एक दूसरा नेता सहनवाज हुसेन एक ब्राह्मण लड़की से बिबाह किया, फ़िल्मी जगत में आमिर खान ने दो-दो हिन्दू लड़कियों की जिंदगी बर्बाद किया, शाहरुख़ खान और कुछ क्रिकेटरों ने भी यही किया जिसका प्रभाव पूर्व भारत में हुआ मै कुछ ताज़ा उदहारण देता हूँ गोरखपुर में श्री शिवप्रताप शुक्ल (बीजेपी) के चुनाव प्रचार में लगे कुछ मुसलमान लडके जिनका लक्ष्य चुनाव में काम कर रही हिन्दू लड़कियां थी एक प्रतिष्ठित प्रोफ़ेसर की लड़की को लेकर भाग गया, सेकुलर फुबिया बीजेपी अल्पसंख्यक सेल बना रखा है इन मुसलमानों का केवल एक ही काम है की बीजेपी के नेताओ से सम्बन्ध बनाना और फिर उनकी लडकियों से योजना बद्ध अपनी योजना सफल करना मुजफ्फरपुर (बिहार) के एक बीजेपी के बड़े नेता की लड़की उनका ही अल्पसंख्यक नेता लेकर वहीँ रहता है बीजेपी के एक बिधायक के साथ रहने वाला बीजेपी के अल्पसंख्यक नेता एक गुप्ता लड़की के साथ बिबाह किया वास्तव ये बीजेपी का अल्पसंख्यक सेल नहीं ये ''लव जेहाद सेल'' बना हुआ है, अभी-अभी मुजफ्फरपुर कोल्हुआ पैगम्बरपुर में एक गुप्ता परिवार जिसका दुकान असम में है उनकी लड़की जो अभी भागी नहीं है लेकिन बिबाह हेतु डुबरी जिला असम में अप्लिकेशन दी हुई है जिसका बिबाह २६ जुलाई को रजिस्टर्ड होना है वहां डुबरी जिला जहाँ मुस्लिम आवादी प्रभावी है आये दिन ये घटनाएँ योजना बद्ध तरीके से की जा रहीं है.
            ये सब नया तो नहीं केवल प्रकार ही बदला है मुल्ला-मौलबी पहले फ़क़ीर बनकर भारत में ख़ुफ़िया गिरी करते और तुर्क लुटेरों को हमलो के लिए अल्लाह के नाम पर प्रोत्साहित करते जैसे ढाई दिन का झोपड़ा क्या है ? अजमेर चिस्ती कौन है यह तो भारत के अंतिम राजा पृथ्बिराज चौहान के ऊपर मुहम्मद गोरी का ही एजेंट था और युद्ध में मारा गया, आज ये मुल्ला भारत पर हमला इस नाते नहीं करा सकते क्यों की कोई भी इस्लामिक देश किसी कर्म का नहीं है इस कारन ISI के इशारे पर मुसलमान नवजवानों को हिन्दू लड़कियों को लव जेहाद हेतु केवल प्रशिक्षण ही नहीं इनाम भी देते है, चार-पाच लडको के ग्रुप में सलाह कर हिन्दू लड़की को परेसान करना प्रत्येक मस्जिद और मदरसे में आधुनिक ड्रेस (कपडा) आठ-दस मोटरसाईकिल रखी जाती है जो पंचर बनाने वाले, दाढ़ी बनाने वाले व कुछ विद्यार्थियों को कपड़ा और मोटर सायकिल प्रति दिन दो घंटे के लिए उपलब्ध करायी जाती है ये लड़के लड़कियों के कालेज का चक्कर लगाते रहते हैं मस्जिद की तरफ से मोबाईल रिचार्ज, ट्रेलारिंग की दुकान, सौंदर्य प्रशाधन की दुकान खोलाई जाती है प्रथम भेट में गिफ्ट देने का प्रयत्न जिसमे सौंदर्य की सामग्री रहती है कभी-कभी उसकी माँ के लिए भी यह सामान उपलब्ध कराते हैं यदि लड़की के पास मोबाईल नहीं है तो उसे सबसे पहले मोबाईल भेट करना जिससे sms या बात कर सकें, मोबाईल रिचार्ज की दुकान जिससे आसानी से लड़कियों का नंबर उपलब्ध हो सके। 
             अधिकतर लड़के हिन्दू दिखने का प्रयास करते हैं अपने हाथ में रक्षा सूत्र बांध लेना, अपना नाम पप्पू, राजू, बब्लू, टामी, कामी रख लेना जिससे पता ही नहीं चलता की ये हिन्दू है या मुसलमान  जब लड़की फंस जाती है और पूरी तरह उसके कब्जे में हो जाती है तब उसे पता चलता है की ये तो मुसलमान है अगर उसने कुछ करने का प्रयास किया तो उसका मोबाईल द्वारा अश्लील चित्र दिखा अपने कब्जे में करना उस लड़की को नहीं पता की ये किस नंबर की बेगम बनाने वाली है कभी-कभी तो दूसरी- तीसरी बुर्के में बंद बोतल की तरह हो जाती है कोई चारा नहीं इतना ही नहीं लड़की भगाने के पश्चात् उसे कहीं रखा, लड़का गायब हो जाता है उसका मोबाईल ले लिया जाता है उसका शारीरिक शोषण कई लोग लगातार करते रहते है बताते हैं यही इस्लाम है काबुल करो, फिर कहीं से उस लड़के का फोन आता है मै तो तुमसे निकाह नहीं कर सकता मै तो जेहाद में जा रहा हु तुम भी चलो वह लड़की नर्क में पड़ी रहती है कभी-कभी तो उसे कोठे पर रहना पड़ता है.
             इसका लाभ और हानि क्या है-----?
            जब एक हिन्दू लड़की मुसलमान बनती है तो कम से-कम १५ बच्चे पैदा करेगी, सभी पाकिस्तानी होगे, सभी गो भक्षक होंगे, भारत माता को डायन कहेगे, मूर्ति पूजक नहीं तोड़क होगे, भारतीय महापुरुषों का अपमान करेगे, वे वन्देमातरम नहीं कहकर उसका अपमान करेगे, भारतीय संस्कृति के साथ खिलवाड़ करेगे, अगर वह हिन्दू रहती है तो एक अथवा दो बच्चे पैदा करेगी सभी भारत भक्त होगे, भारत माता की जय बोलेगे, गो रक्षक होगे, मूर्ति पूजक होगे वे भारतीय संस्कृति का अपमान नहीं उसकी रक्षा करेगे। 
         परिणाम क्या होगा-----?
          यदि हम नहीं जागे तो जिस गांव में ९० घर हिन्दू है दस घर मुसलमान है दस साल बाद वह गांव मुस्लिम बहुल हो जायेगा मुखिया, जिला पार्षद व बिधायक सभी मुसलमान होगे आज देश में सैकड़ों पाकिस्तानी पाकेट हैं, कल पूरा देश पाकिस्तान होगा----! इसमें कोई कठिनाई नहीं लेकिन क्या विश्व में शांति स्थापित हो पायेगी ? मानवता बचेगी--! अथवा विश्व---- इस्लाम और ईसाईयों के कुरुक्षेत्र की धरती बनेगी     

Archives