धर्म विशेष

भागलपुर सुन्नी मुस्लिम सम्मलेन क़ा जिन्न

         एक तरफ मुसलमानों क़े धर्म गुरु मुल्ला मौलबी यह कहते नहीं थकते की इस्लाम भाईचारा प्रेम मुहब्बत लेकर दुनिया में आया है दूसरी  तरफ जब हम देखते है की जबसे इस्लाम इस धरती पर आया है वह हिंसा हत्या और नफरत क़े अलावा दुनिया को कुछ नहीं दिया कमसे कम भारत क़े सन्दर्भ में तो यही कहा जा सकता है अभी १६ मई को सुन्नी सम्मलेन में भी यही बात दुहराई गयी इसमें तो एक कदम और आगे बढ़कर मुल्लाओ ने बोला की हम सबसे बड़े देश भक्त है ,यह तो भारतीयों को मुर्ख बनाने क़े अलावा कुछ नहीं सारा क़ा सारा आतंकबाद व भारत बिरोधी गतिबिधि मुसलमानों क़े द्वारा है ,.
          इतना ही नहीं सुन्नी सम्मलेन क़े तुरंत बाद जोस में आने पर भागलपुर में दुसरे ही दिन गरीब आदिबासी ज्यादा उराव क़े साथ सहजाद ,तौफीक ,और  सफी  ने केवल छेड़छाड़ ही नह किया उसके भाई क़े बोलने पर महाबीर मंदिर क़े सामने मारा तो वह क़े ब्यापारियो क़े हस्तक्षेप से वह लड़की बच गयी लेकिन आगे महाबीर सपर सिटी रेमंड सो रूम क़े सामने भाई बहन को २० मुस्लिम गुंडों ने मिलकर उसे अधमरा कर दिया हास्पिटल में भारती हुई लेकिन दबाव क़े चलते पुलिस ने रिपोर्ट नहीं दर्ज किया .
           उसी दिन जोस में आये दरभंगा क़े मुसलमानों ने परंपरा गत निकलने वाले महाबीरी झंडा क़ा बिरोध ही नहीं किया बल्कि उस पर हमला करके सैकड़ो को घायल कर दिया ,पुलिस ने मुसलमानों को प्रोत्साहन क़े लिए सैकड़ो हिन्दुओ क़े ऊपर मुकदमा कायम कर दिया .
           वाह रे प्रेम क़ा सन्देश देने वाले इस्लाम और भारतीय संबिधान की रक्षा करने वाली सरकार ,आज पूरा भारत त्राहि-त्राहि कर रहा है आखिर कौन बचाएगा इसे ,इस मानवता बादी हिन्दू संस्कृति क़ा क्या होगा --? क्या हम पोप की एजेंट सोनिया और अमेरिकन एजेंट मनमोहन क़े सहारे इसे छोड़ देगे सोचे बिचारे, कुछ करे जिस देश का नागरिक नहीं खड़ा होता वह देश मृत देश के सामान हो जाता है . 

1 टिप्पणी

aarya ने कहा…

सादर वन्दे !
अंधेर नगर चौपट राजा !