धर्म विशेष

इश्वर को समर्पण

घर बार दे दफ़न को, कौणी न दे कफ़न को.
जिसने दिया है तन का, वही देगा कफ़न का.
                                                  स्वामी श्रद्धानन्द जी
       राष्ट्रकार्य करते समय हमें अपने मन में यह संकल्प लेना चाहिए-----------------। 

1 टिप्पणी

aarya ने कहा…

सादर वन्दे
वन्दे मताराम!