धर्म विशेष

लिब्राहम आयोग ------- इतिहास से परे

          लिब्राहन आयोग रिपोर्ट पर लोकसभा में बहस का उत्तर देते हुए गृहमंत्री पी चिताम्बरम बहस के दौरान जिन मुद्दों को छुवा है वह अत्यन्त हास्यास्पद है, ऐसा लगता है कि गृहमंत्री को भारतीय बांगमय का अध्ययन कम है मंत्री हो जाने से ज्ञान बढ़ जाता है ऐसी बात नही. श्री राम जन्मभूमी भारतीय राष्ट्रीयता का प्रतीक है यह मामला राजनैतिक नही है यह हमारी अस्मिता से जुडा है श्री राम हमारे आराध्य है बाबर बिदेसी आक्रान्ता हमलावर था जिसने भगवन के मन्दिर को ढहा मस्जिद बनाया, सवाल यह है की हमारी राष्ट्रीयता के प्रतीक राम है या बाबर । भारत के ऊपर कभी सिकंदर कभी शक, हूंड बिदेसी लुटेरो ने आक्रमण किया, हमारे भारत के सपूत चाणक्य, चन्द्रगुप्त मौर्य, चन्द्रगुप्त बिक्रमादित्य, यसोधार्मा, बप्पारावल, सेनानी पुश्यमित्र से लेकर महाराणा प्रताप, छत्रपती शिवाजी ने सफलाता पुर्बक बिदेशियों का मुहतोण उत्तर ही नही दिया बल्कि अपनी मातृभूमि कि रक्षा क़ी हम आचार्य शंकर के राष्ट्रनिर्माण के योगदान को कैसे भुला सकते है, इतिहास के पन्नो तथा गजेटियर से पता चलता है की श्रीराम जन्म भूमि हेतु ७४बार यूद्ध हुवा है जिसमे एक लाख से अधिक हिन्दुवों क़ी लासे गिरी है.
        यह कौन नही जनता -----? गृहमंत्री का भाषण ऐसा लग रहा था जैसा किसी इस्लामिक देश के मंत्री हो, क्या सेकुलर का अर्थ बदल गया है ? हिंदू अपने ही देश में फ़िर दूसरी आज़ादी क़ी लड़ाई लड़ेगे ! कौन नही जनता भुट्टो को कहता था क़ी हम भारत से एक हजार वर्ष से लड़ रहे है आखिर वह कौन सा भारत था--? इसका अर्थ है की जिस दिन भारत का पहला हिंदु- मुसलमान हुवा उसी दिन पाकिस्तान ने युद्ध शुरू कर दिया था, गृहमंत्री पर नाराज होने क़ी जरुरत नही है दया करने जरुरत है .वे भारत के मंत्री है और हिंदू है वे जाते है देवबंद, जहा बंदेमातरम के बिरोध में फतवा होता है, वे जानते है क़ी इस्लाम में राष्ट्रीयता का कोई महत्व नही है, वे क्या उन्होंने यह जानने का प्रयत्न किया कि राष्ट्र क्या है ? उसके लिए आचार्य शंकर, चाणक्य तथा भारतीय दर्शन को पढ़ना पड़ेगा गृहमंत्री जी एक दिन हिंदू जागेगा, भारत राष्ट्र खड़ा होगा और हिसाब मागेगा ? लिब्रहम आयोग ने भारत की आत्मा के साथ खिलवाड़  किया है आने वाले समय में कांग्रेस पार्टी को भोगना पड़ेगा राम जन्म स्थान पर मन्दिर तो बनेगा ही और वहा पर मन्दिर ही है राम भारत क़ी आत्मा है, धैर्य है और आधार भी है आवो हम सब मिलकर भारत क़ी आत्मा को जगाये ।।
                           धन्यवाद. 
        भारत माता क़ी आत्मा को प्रणाम.

कोई टिप्पणी नहीं