जुलाई, 2010 की पोस्ट दिखाई जा रही हैंसभी दिखाएं
पाकिस्तान, बंगलादेश में हिन्दुओ पर अत्याचार और भारत में भी गुलामी जैसी स्थिति, अपने ही देश में नंबर दो क़ा नागरिक होने को मजबूर------!
देश भक्तो क़े साथ ब्रिटिश शासन जैसा ब्यवहार. हिन्दू संगठनों को आतंकी संगठनों क़े बराबर खड़ा करने की साजिस- चर्च व अमेरिका क़े इशारे पर सोनिया पार्टी ,सरकार.
मां-नर्मदा------ सामाजिक कुम्भ-----एक बार फिर भारतीय चेतना जगाने क़ा प्रयत्न ----समाज को एक रस-समरस करके  राष्ट्रीयता पिरोने क़ा प्रयत्न
समय-समय पर भारत माता अपनी बीर भुजाये प्रकट करती है
ये भारत पर आक्रमण है या हिंदुत्व को समाप्त करने की साजिस ..
शंकरदेव क़े अभेद दुर्ग कामरूप को लहूलुहान करते  बिधर्मी
डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी -------  महान क्रन्तिकारी और भारत माता क़े अद्भुत सपूत थे.
भारत में रहना है तो भारतीय बनना पड़ेगा नहीं तो जहा अच्छा हो जाना चाहिए.
ज़्यादा पोस्ट लोड करें कोई परिणाम नहीं मिला